Hey everyone! So Here you get the Ab Puch Lyrics in Hindi. Check my feed and please do appreciate my work.
अब पूछ Ab Puch Lyrics in Hindi | Emiway Bantai
Ab Puch Lyrics in Hindi is sung by Emiway Bantai. This New Rap Song is composed by 6Lack & T-Pain. Ab Puch Song is written by Emiway Bantai.

Song: Ab Puch
Singer: Emiway Bantai
Music: 6Lack, T-Pain
Lyrics: Emiway Bantai
Label: Emiway Bantai

Ab Puch Lyrics in Hindi

पुछा सांवल मन खुद से
हन कितेन बर सब कहि कर रह
जो हो गया है वो राखेगा
को फिर काहे को डार रहा हू

धेरे धेरे झिममेड़ी आणे लगि
मैण देख के अब तो
मुख्य खुद से सुधर रा हू
दोस्ती यारी मजमेरी में चैदने लागा था
अब मेन उत्तार राह हू
बदालना है सब कुच
यों ठान लिया ये था मन सच सच

जो वी केते द क्या तू कामयेगा
ये सब तू कारे आजा बेटा अब पुच

अब पुच, अब पुच …

हन अब पुछ मुजे मेन बोलुन ये शूरुआत है
गाना रिकॉर्ड हो गया है और होरा रात है
सब सेल सोचे ये कैसी लख पारा है
इति सरी बातेन मुजे काफ़ी दाते घरवाले
उसके बीना हम ये कभी नहीं कर पाते हैं
डिस गेम मीं मार दलते सब लोग कोडपेक
स्टूडियो मैं काफ़ी दिन काम का
माज़ा आरा घर आके

कर आंखिन उपर आज घूम रह कार में
पेहले लेके स्कूटर आ पस बोहत शूटर
उदता कबूतर हा माजा लिया मैना बीना फेम के वि
लागुरी से लेके सप सेधी लुडो खेल के भई
पेहन के भी घूमा हू मुख्य शक्तिमान के कपडे
बचन से अल्टर थ पगल से लडके पे भड़के
कुच लॉग क्यूंकी लडका ये खूद लडके
बाते कर रा चड के
उपर तोह सब दुख री गाई

हम तोह बस केह गाये बाकि सब बे गे
Laalach Mein Paise Ke Kagaz Mein
मगज़ मे लालच ना कभी घोसने दीया
मेहँट किय मन जम के और
मुजे बेटा उसन दिया छप्पड़ फाड़ के

अब पुच, अब पुच …

कोइ नी पुछे जब तक उचे ना हो जाए जिंदगी में
कु छ है बस दौलत है फसीले गंदगी में
ऐस सोच वाल
खुद को पेहले साहि जग पाहुचा ले
दिमाग इंका सौचलै ऐशा सोख सुहा न मेन
सबका भाला सखा हन आवे बाधा तबही मुख्य
अबि मुख्य वाहा पे नी जेहा पे पेहले
अयले सब याहन पे एके को जगे एकेले
थकेले ना बांके जेना

हाथ पेयर है खून पसेना
बाहा के लाडो टकलेफो से
जगा के दीखो किने लोग तकेलेफो के भइ
वा सपनो की या दाऊ
किला राखे थोत्ते हा टॉड दे
इज्जत न कामाईयेगा ते न दीगे ये

के को फोडे के कोए कोडे कोए कोइ निकोडे
आइसा कोइ आयेगा कौन जो इन्सान कोई जोड
मौका चोडे टैब जाके दिमाग डूड
ऐस कीन्ने लोग है जो जग कर भी सो राही
उथ जाऊ

अब पुच, अब पुच …

इंसाँ के अनख में खौफ दीखा
सच देख के कर्ता अँधेखा
सबने बैथ के फन देख अपन भलाई पे
मन बेहका है सबका
दूनिया खतम कबका हो चूका है
लाग न्ह सुने रब का
सबको आपनी पड़ी है कोन किसको डेरा फटका
सिरफ मझि लीन मैं भटका
ज़िन्दगी मैं है एतका
दिमाग में कछरा भर है
लगले झडू कटका क्युन फोकट का
खां की आदात है इन्सान पे लानत है
गलत होत दोखे के इंकी आडत है
याहं सो बोहत छोती और लमबे इमरत है
काले पइसे को गोरा करे के कोख दावत है
खुलके बात करूं मन की बात
यहान बेटा सबको इज्जत है, खुलके बोल!

आब पुच अब पुच…

पुछा सांवल मन खुद से
हन कितेन बर सब कहि कर रह
जो हो गया है वो राखेगा
को फिर काहे को डार रहा हू

धेरे धेरे झिममेड़ी आणे लगि
मैण देख की अब तो
मुख्य खुद से सुधर रा हू
दोस्ती यारी मजमेरी में चैदने लागा था
अब मेन उत्तार राह हू
बदालना है सब कुच
यों ठान लिया तो था मन सच सच

जो वी केते द क्या तू कामयेगा
ये सब तू कारे आजा बेटा अब पुच

अब पुच, अब पुच …

एमीवे बंटाई!
मालूम है ना!
हा हा हा
मित्रों अलविदा!

More Songs [Emiway Bantai]:
#बंटाई Lyrics in Hindi
#मिस तुझे Lyrics in Hindi
#बिलाल Lyrics in Hindi

Music Video of Ab Puch Song

Previous Post Next Post